ब्लॉग कैसे बनायें – 2019 में ब्लॉग बनाने की स्टेप बाय स्टेप गाइड

क्या आप ब्लॉग बनाने की एक फ्री, आसान और स्टेप बाय स्टेप गाइड की तलाश कर रहे हैं?

इस पोस्ट पर मेरी फ्री गाइड आपको सिखाएगी कि एक ब्लॉग कैसे बनायें जो सुंदर और क्रियाशील हो। पूरी गाइड आसान स्टेप बाय स्टेप स्टेप्स में (फोटो के साथ)।

क्या आप स्टेप बाय स्टेप ट्यूटोरियल शुरू करने के लिए तैयार हैं? सीधे स्टेप #1 पर जाने के लिए यहां क्लिक करें

मेरा नाम विकास दाँगी है और मैं आपको सिखाने जा रहा हूँ कि ब्लॉगिंग कैसे शुरू करें। मैं 2008 से ब्लॉग और वेबसाइट बना रहा हूँ। इस दौरान मैंने खुद के कई ब्लॉग लॉन्च किये, और सैकड़ों अन्य लोगों को भी ऐसा करने में मदद की है।

मुझे पता है कि एक सफल ब्लॉग शुरू करना एक भारीभरकम काम लग सकता है। यह फ्री गाइड नौसिखियों के लिए ब्लॉगिंग शुरू करने के बारे में है, जो आपको सिखाएगी कि कैसे सिर्फ बेसिक कंप्यूटर स्किल्स के जरिये आप ब्लॉगर बन सकते हैं। इसलिए, चाहे आप 13 साल के हों या 63 के, आप सिर्फ 20 मिनट में अपना ब्लॉग बना सकते हैं।

मुझे यह स्वीकार करने में कोई शर्म नहीं है कि जब मैं पहली बार ब्लॉग बनाना सीख रहा था तो मैंने बहुत सारी गलतियाँ कीं। आप मेरे इस एक दशक से भी अधिक समय के अनुभव का फायदा ले सकते हैं, ताकि आप अपना ब्लॉग बनाते समय उन्हीं गलतियों को न दोहराएं। मैंने यह फ्री गाइड इसीलिए बनाई है ताकि कोई भी सीख सके कि कैसे जल्दी, आसानी से और बिना गलती किये ब्लॉग बनाया जा सकता है। और यदि आप किसी भी जगह अटक जाते हैं, तो कृपया इस पोस्ट में कमेंट करके मुझे बताएं, मैं आपकी मदद करने की पूरी कोशिश करूँगा!

इस ट्यूटोरियल के बाकी हिस्से को छोड़कर सीधे ब्लॉग बनाने की प्रक्रिया पर जाने के लिए यहाँ क्लिक करें

वैसे ब्लॉग वास्तव में होता क्या है?

कम शब्दों में कहें तो ब्लॉग एक प्रकार की वेबसाइट होता है, जो मुख्य रूप से लिखित सामग्री (written content) पर केंद्रित होता है, जिन्हें ब्लॉग पोस्ट भी कहा जाता है। आपने अक्सर न्यूज़ ब्लॉग (जैसे टाइम्स ऑफ़ इंडिया, जी न्यूज़, NDTV आदि) और सेलिब्रिटी ब्लॉग (जैसे अमिताभ बच्चन जी का ब्लॉग है srbachchan.tumblr.com) के बारे में सुना होगा, इसी तरह हम इस गाइड के जरिये आपको किसी भी टॉपिक पर सफल ब्लॉग बनाने की प्रक्रिया सिखाएंगे।

ब्लॉगर अक्सर अपने व्यक्तिगत दृष्टिकोण (personal perspective) से लिखते हैं, जो उन्हें अपने पाठकों से सीधे जुड़ने में मदद करता है। इसके अलावा, ज्यादातर ब्लॉगों में एक “कमेंट्स (comments)” सेक्शन भी होता है, जहां पाठक ब्लॉगर के साथ विचारों का आदान-प्रदान कर सकते हैं। अपने पाठकों के साथ कमेंट्स सेक्शन में बातचीत करने से ब्लॉगर और पाठकों के बीच एक गहरा कनेक्शन बनता है।

पाठकों के साथ यह सीधा कनेक्शन स्थापित करना ही ब्लॉग का मुख्य उद्देश्य होता है, और इसी के जरिये आपके ब्लॉग की लंबे समय तक टिकने वाली लोकप्रियता बन सकती है।

इस कनेक्शन के जरिये आपको अपने जैसे विचार रखने वाले लोगों के साथ विचार-विमर्श और आईडिया शेयर करने का मौका मिलता है। इससे आपको अपने पाठकों के साथ विश्वास बनाने में भी मदद मिलती है। अपने पाठकों के प्रति विश्वास और निष्ठा से आपके ब्लॉग से पैसे कमाने का दरवाजा खुल जाता है, जिसके बारे में मैंने आगे इस गाइड में चर्चा की है।

क्या आपको एक ब्लॉग शुरू करना चाहिए?

ब्लॉग शुरू करने के बारे में कई गलत धारणाओं में से एक यह है कि आपको सफल होने के लिए एक अच्छा राइटर होने की जरूरत है। लेकिन सच्चाई तो यह है कि लोग किसी भी विषय पर एक व्यक्तिगत दृष्टिकोण (personal perspective) प्राप्त करने के लिए ब्लॉग पढ़ते हैं, इसलिए ज्यादातर ब्लॉगर बहुत ही सरल, दोस्ताना और संवादी शैली (बातचीत करते हुए) में ब्लॉग पोस्ट लिखते हैं।

इसके अलावा, आपको एक सफल ब्लॉग बनाने के लिए अपने ब्लॉग टॉपिक में एक्सपर्ट होने की भी जरूरत नहीं है। उदाहरण के लिए, एक कुकिंग ब्लॉग के पाठक ब्लॉग में किसी भी फ़ूड साइंटिस्ट की किताब पढ़ना नहीं चाहेंगे, बल्कि वो एक ऐसे व्यक्ति के व्यक्तिगत अनुभवों को पढ़ना चाहेंगे जिसने वास्तव में कोई फ़ूड पकाया हो, उसमें गलतियाँ की हों और गलतियों से सीखा हो आदि।

ब्लॉगिंग में सफल होने के लिए सिर्फ एक ही योग्यता की जरूरत होती है: अपने ब्लॉग के टॉपिक में जुनूनी (passionate) होना।

दरअसल, ब्लॉगिंग अपने ज्ञान और अनुभवों को दुनिया के साथ शेयर करने का तरीका होता है। किसी ऐसे टॉपिक को चुनना जिसके प्रति आप काफी जुनूनी हैं या रुचि रखते हैं, आपके ब्लॉग को सफल बनाने की प्रक्रिया को काफी आसान बना देता है। एक से अधिक टॉपिक पर लिखने में भी कोई बुराई नहीं है। जब तक कि आप उन चीजों के बारे में लिख रहे हैं, जिनमें आप वास्तव में रुचि रखते हैं, तो आपके पाठकों को आपके ब्लॉग में दिलचस्पी रहेगी।

तो कोई भी व्यक्ति ब्लॉग क्यों बनाता है? इसके निम्न कारण हो सकते हैं:

  • घर बैठे पैसे कमाने के लिए: यदि ब्लॉगिंग को सही ढंग से किया जाये तो यह पैसा कमाने का काफी आकर्षक विकल्प हो सकता है। जाहिर तौर पर दुनिया के टॉप ब्लॉगर्स काफी अच्छा-खासा पैसा कमाते हैं, यहाँ तक कि आप पार्ट टाइम ब्लॉगिंग करके भी अच्छी कमाई कर सकते हैं, यदि सभी चीजें ठीक रही तो। ब्लॉगिंग की सबसे बेस्ट बात यह है कि इसमें नियमित आय (passive income) होती है, मतलब सिर्फ कुछ घंटों की मेहनत से एक अच्छी ब्लॉग पोस्ट लिखने के बाद आपको इससे लगातार आय होती रहती है। मैंने इस गाइड में ब्लॉग से पैसे कमाने के बारे में आगे डिटेल में चर्चा की है।
  • अपनी स्टोरी शेयर करने के लिए: एक ब्लॉग आपकी आवाज को कई लोगों तक पहुँचाने का जरिया बन सकता है। आप अपनी स्टोरी को पूरी दुनिया के साथ शेयर कर सकते हैं। कई लोग अपने ब्लॉग को अपनी डायरी की तरह इस्तेमाल करते हैं, जहाँ वो अपने रोजमर्रा के अनुभवों को शेयर करते हैं ताकि उनके दोस्त, परिवार और अन्य लोग उनके जीवन का हिस्सा बन सकें।
  • अपनी या अपने बिज़नेस की पहचान बनाना: एक सफल ब्लॉग के जरिये आप अपनी या अपने बिज़नेस की ब्रांड को कई लोगों तक पहुँचा सकते हैं। कई लोगों ने सिर्फ अपने ब्लॉग के जरिये किसी भी फील्ड में एक एक्सपर्ट की पहचान बनाई है और कई को तो प्रोफेशनल डील्स भी प्राप्त हुई हैं।
  • कम्युनिटी बनाने के लिए: ब्लॉगिंग के जरिये एक जैसी फील्ड के लोगों के बीच परस्पर संवाद बढ़ता है, जिससे किसी भी फील्ड की एक कम्युनिटी बन जाती है। जब आप ब्लॉग पोस्ट लिखकर पोस्ट करते हैं तो कई लोग उसपर कमेंट भी करते हैं, यह उन लोगों से जुड़ने का एक शानदार तरीका है, जो आपके ब्लॉग टॉपिक जैसे विषयों में रुचि रखते हैं। ब्लॉगिंग के जरिये आपको अपने अनुभव के आधार पर इन लोगों को सिखाने की सुविधा मिलती है और इससे आपको अपने पाठकों से भी सीखने का मौका मिलता है।

अच्छी खबर यह है कि इंटरनेट का उपयोग करने वाले लोगों की संख्या दिन-प्रतिदिन काफी तेजी से बढ़ रही है। आज के समय में पहले के मुक़ाबले कई ज्यादा लोग इंटरनेट विजिट करते हैं। इसका मतलब यह हुआ आज आपके ब्लॉग को विजिट करने वाले संभावित पाठकों की संख्या, किसी अन्य समय के मुक़ाबले सबसे ज्यादा है और आगे के समय में यह बढ़ती ही जाएगी। सरल शब्दों में कहें तो, यदि आप ब्लॉग शुरू करने के बारे में सोच रहे हैं तो अभी से बेहतर समय कोई और नहीं।

तो चलिए जानते हैं कि ब्लॉग कैसे बनायें

ब्लॉग कैसे बनायें, 6 स्टेप्स

नीचे दी गई स्टेप्स को फॉलो करके आप 20 मिनट में अपना ब्लॉग बना सकते हैं:

  1. ब्लॉग का नाम चुनें: कुछ ऐसा नाम चुनें जो आपके ब्लॉग के टॉपिक का वर्णन करता हो।
  2. अपना ब्लॉग ऑनलाइन ले जाएँ: अपने ब्लॉग को रजिस्टर करे, वेब होस्टिंग लें और एक ब्लॉगिंग सॉफ्टवेयर इंस्टॉल करें।
  3. अपने ब्लॉग को कस्टमाइज़ करें: एक फ्री टेम्पलेट चुनें और अपनी जरूरत अनुसार इसमें बदलाव करें।
  4. अपनी पहली पोस्ट लिखें और पब्लिश करें: यह है ब्लॉगिंग का सबसे मजेदार हिस्सा।
  5. अपने ब्लॉग का प्रचार करें: अधिक से अधिक लोगों को अपना ब्लॉग पढ़ने के लिए प्रोत्साहित करें।
  6. ब्लॉगिंग के जरिये पैसे कमाएं: अपने ब्लॉग को मोनेटाइज करने के विभिन्न विकल्पों को चुनें।

तो चलिए आपका ब्लॉग बनाते हैं!

स्टेप 1: ब्लॉग का नाम चुनें

एक अच्छा ब्लॉग नाम खोजने के लिए सबसे पहला कदम है अपने विषय (टॉपिक) का चयन करना।

यदि आपने अभी तक यह निश्चित नहीं किया है कि आप किस टॉपिक पर ब्लॉगिंग करेंगे, तो एक अच्छा ब्लॉग टॉपिक खोजने के कुछ तरीके निम्न हैं:

  • शौक और जुनून: शौक या अन्य रुचियाँ जिनके प्रति आप काफी जुनूनी हैं, ब्लॉगिंग शुरू का एक शानदार टॉपिक बन सकते हैं। कुकिंग (खाना पकाना), ट्रेवल (यात्रा सम्बंधित), फ़ैशन, स्पोर्ट और कार आदि टॉपिक इसके क्लासिक उदाहरण हैं। लेकिन जरूरी नहीं कि कोई एक ही टॉपिक चुनें, अस्पष्ट शौक (या एक से अधिक टॉपिक्स) पर बने ब्लॉग भी सफल हो सकते हैं।
  • जीवन के अनुभव: हर व्यक्ति के पास अपने जीवन के अनुभवों के माध्यम से सीखे गए सबक होते हैं। इन अनुभवों को शेयर करके आप अपने जैसी  परिस्थितियों से गुजरने वाले कई लोगों की मदद कर सकते हैं। उदाहरण के लिए मैंने हाल ही में अपने एक दोस्त को जैविक खेती के ऊपर एक ब्लॉग बनाने में मदद की थी। वो पिछले 5 सालों से जैविक खेती कर रहा है और उसके पास बहुत सारे अनुभव हैं जो वो अब अपने ब्लॉग के जरिये अन्य किसानों के साथ शेयर कर रहा है, और इसके जरिये उसे कई किसानों के साथ जुड़ने का मौका मिल रहा है। ऐसे ही आप भी अपने जीवन के अनुभवों के बारे में विचार करें। यह आपके परिवार (जैसे एक हाउसवाइफ होने का अनुभव), काम (जैसे ग्राहकों से डील करने के अनुभव), या अन्य जीवन के अनुभव (जैसे एक बीमारी या तलाक जैसे परेशानी के समय से निपटने के बारे में, या एक खुशहाल समय जैसे कि शादी या बच्चे के जन्म की तैयारी के बारे में एक ब्लॉग) के बारे में हो सकता है।
  • एक पर्सनल ब्लॉग: एक पर्सनल ब्लॉग पूरी तरह से आपके बारे में होता है। इसमें कई तरह के टॉपिक शामिल होंगे, आपकी दैनिक दिनचर्या के कामकाज से लेकर आपके मन में आने वाले अलग-अलग विचार या चिंतन। पर्सनल ब्लॉग ब्लॉगिंग का काफी अच्छा तरीका होता है, जिसमें आपको सिर्फ एक टॉपिक पर अटके नहीं रहना होता।

जब आप एक टॉपिक चुन लेते हैं, तो फिर समय आता है अपने ब्लॉग के नाम को चुनने का।

एक अच्छा ब्लॉग नाम वर्णनात्मक होना चाहिए, मतलब जो आपके ब्लॉग के टॉपिक का वर्णन करता हो, ताकि संभावित पाठक केवल नाम से यह बता सकें कि आपका ब्लॉग किस बारे में है।

यदि आप एक विशिष्ट टॉपिक के बारे में ब्लॉगिंग करना चाहते हैं तो आप निश्चित रूप से इसे किसी तरह अपने ब्लॉग नाम में शामिल करना चाहेंगे। हालांकि केवल एक शब्द पर लटके न रहने का प्रयास करें। उदाहरण के लिए, खाना पकाने वाले ब्लॉग में जरूरी नहीं कि “खाना पकाना” शब्द हो। “भोजन”, “व्यंजन”, और “आहार” जैसे नामों के जरिये भी पाठक समझ जायेंगे कि आपका ब्लॉग खाना पकाने के बारे में है।

यदि आप एक पर्सनल ब्लॉग बनाने की सोच रहे हैं, जहाँ आप विभिन्न टॉपिक्स पर चर्चा करेंगे, तो मैं आपको अपने ब्लॉग नाम में अपना नाम या इसमें कुछ बदलाव करके उपयोग करने की सलाह दूँगा, क्योंकि आपका ब्लॉग आपके बारे में है। जैसे मेरा नाम विकास दाँगी है तो मेरे पर्सनल ब्लॉग का नाम होना चाहिए vikasdangi.com, यदि आपके नाम का एड्रेस उपलब्ध नहीं है तो आप अपने ब्लॉग नाम में थोड़े बदलाव ला सकते हैं, जैसे vikasblog.com, vikassays.com आदि।

एक बार आपके पास अपने ब्लॉग नाम के कुछ आईडिया आ जायेंगें तो आपको इसका TLD (domain extension) चुनना होगा

एक .com TLD सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला extension है। लेकिन आप  .net. .org, .in आदि भी चुन सकते हैं। आजकल तो .blog भी काफी लोकप्रिय हो रहा है जो ब्लॉगिंग के लिए परफेक्ट TLD है।

यह बात ध्यान रखना भी जरूरी है कि आप अपने ब्लॉग डोमेन के शब्दों में कोई भी स्पेस नहीं दे सकते। इसलिए “Vikas Dangi Blog” का एड्रेस होगा vikasdangiblog.com

नोट: आप डोमेन नाम में डैश (-) को छोड़कर कोई भी स्पेस या विराम चिह्न का उपयोग नहीं कर सकते।

यदि आप पाते हैं कि आप जो डोमेन नाम चाहते हैं वह पहले से ही लिया हुआ है तो कुछ चीजें हैं जो आप कर सकते हैं:

  • अलग डोमेन एक्सटेंशन (tld) आजमाकर देखें: यदि .com वर्जन पहले से रजिस्टर है, तो आप अभी भी अपने ब्लॉग नाम का, .in, .net या .org वर्जन प्राप्त कर सकते हैं।
  • डोमेन नाम में कुछ एक्स्ट्रा शब्द जोड़कर देखें: डोमेन नाम के आगे या पीछे कुछ शब्द जोड़कर देखें, जैसे vikasdangi.com की जगह vikasdangiblog.com या vikasblog.com चेक किया जा सकता है।
  • शब्दों के बीच में डैश (-) जोड़ें: जैसे vikas-dangi.com

कुछ अच्छे, सस्ते और लोकप्रिय डोमेन रजिस्ट्रार की लिस्ट नीचे दी जा रही है

इसमें से किसी भी कंपनी में अपना डोमेन नाम सर्च करके रजिस्टर कर लें। इसके लिए आपको इनपर एक अकाउंट बनाना होगा, जहाँ पर आपके डोमेन के DNS रिकार्ड्स की जानकारी होगी।

यहाँ पर मैं GoDaddy पर डोमेन रजिस्टर करने की जानकारी दूँगा –

#1: सबसे पहले in.godaddy.com पर जाएँ और सर्च बॉक्स में अपना पसंदीदा डोमेन नाम डालकर सर्च करें।

GoDaddy पर डोमेन नाम सर्च करें

#2: यदि आपका डोमेन नाम उपलब्ध होगा तो “domain.com is available” लिखा दिखेगा, अन्यथा “domain.com is taken” लिखा आएगा। यदि डोमेन उपलब्ध न हो तो इसमें थोड़े बदलाव करके सर्च करें या किसी अन्य TLD का डोमेन चुनें। इच्छानुसार डोमेन चुनने के बाद इसके सामने मौजूद “Add to Cart” बटन पर क्लिक करें।

अपने पसंदीदा डोमेन के सामने वाली "Add to Cart" बटन पर क्लिक करें

#3: अब डोमेन आपके Cart में चला गया है। इसको खरीदने वाले पेज पर जाने के लिए लेफ्ट में सबसे ऊपर मौजूद Cart आइकॉन पर क्लिक करें या “Continue to Cart” बटन दबाएं।

GoDaddy Cart पर जाएँ

#4: अब GoDaddy आपको कुछ एक्स्ट्रा सर्विस लेने की सलाह देगा, जैसे domain privacy, professional email और Web Hosting आदि। आपको इन सब में “No Thanks” सेलेक्ट करके “Continue to Cart” बटन पर क्लिक करना है।

Godaddy की सब सर्विस में "No Thanks" सेलेक्ट करके "Continue to Cart" बटन पर क्लिक करें

#5: अब आपका Checkout पेज खुल जायेगा। यहाँ से आगे बढ़ने के लिए आपके पास GoDaddy का अकाउंट होना जरूरी है। यदि आपके पास पहले से GoDaddy का अकाउंट है तो “Sign In” बटन पर क्लिक करके login कर लें, यदि नहीं है तो “Create Account” बटन पर क्लिक करके एक अकाउंट बना लें।

Godaddy sign in to cart

यहाँ पर हम यह मानकर चल रहे हैं कि आपके पास पहले से GoDaddy अकाउंट है और आपने इसमें Sign in कर लिया है।

#6: Sign in करने के बाद GoDaddy का Payment पेज खुलेगा, जहाँ पर आपके डोमेन की टोटल कीमत (टैक्स के साथ) दी गई होगी। अब इस कीमत को आप Net Banking, Debit Card, UPI आदि ऑप्शन सेलेक्ट करके चुका सकते हैं।

GoDaddy Payment Page

सफल पेमेंट हो जाने के बाद डोमेन आपके GoDaddy अकाउंट में आ जायेगा। यहाँ से डोमेन को अपने होस्टिंग अकाउंट में जोड़ने की पूरी जानकारी हमने अगली स्टेप में दी है।

स्टेप 2: अपना ब्लॉग ऑनलाइन ले जाएँ

अब जब आपको अपने ब्लॉग का डोमन एड्रेस मिल गया है तो अब समय है अपने ब्लॉग को ऑनलाइन जे जाना। यह काम कठिन या टेक्निकल लग सकता है, लेकिन नीचे दी गई स्टेप्स को फॉलो करके आप आसानी से यह प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं:

अपने ब्लॉग को ऑनलाइन ले जाने के लिए आपको 2 चीजों की जरूरत होती है: ब्लॉग होस्टिंग और ब्लॉगिंग सॉफ्टवेयर। अच्छी खबर यह है कि यह दोनों ही चीजें आजकल काफी आसानी से मिल जाती हैं।

ब्लॉग होस्टिंग एक कंपनी होती है जो आपके ब्लॉग की फाइल्स को एक 24/7 चालू इंटरनेट से कनेक्टेड कंप्यूटर में स्टोर करती है और जब भी कोई आपके ब्लॉग को खोलता है तो उनतक जानकारी पहुँचाती है। ब्लॉग ऑनलाइन होने के लिए आपके पास किसी भी कंपनी में एक ब्लॉग होस्टिंग अकाउंट होना जरूरी है।

कुछ जानी मानी ब्लॉग होस्टिंग कंपनियों की लिस्ट हम नीचे दे रहे हैं –

इनमें से किसी भी एक कंपनी में अपनी जरूरत अनुसार होस्टिंग प्लान ले लें। शुरुआत में आप सबसे सस्ता होस्टिंग प्लान ले सकते हैं, और बाद में अपने विजिटर बढ़ने पर आप आसानी से अपने प्लान को बदल सकते हैं।

होस्टिंग अकाउंट बनने के बाद कंपनी आपको अपने CPanel का ID password देगी, जहाँ पर आप अपनी वेबसाइट की फाइल्स को मैनेज कर सकेंगे, पहले से रजिस्टर किया हुआ डोमेन जोड़ सकेंगे और अपने होस्टिंग अकाउंट की हेल्थ को चेक कर सकेंगे।

अब आपको अपने डोमेन को इस होस्टिंग अकाउंट में जोड़ने की जरूरत है। ऐसा करने के लिए आपको अपने डोमेन के DNS रिकॉर्ड में nameservers को अपने होस्टिंग अकाउंट के nameservers में बदलना होगा। (यदि आपका डोमेन नाम रजिस्ट्रार और होस्टिंग कंपनी एक ही है तो इस स्टेप को छोड़ दें, क्योंकि आपके डोमेन की nameservers पहले से ही होस्टिंग कंपनी की होंगी)।

यहाँ पर हम GoDaddy के डोमेन की nameservers को HostGator होस्टिंग कंपनी की nameservers में बदलने की स्टेप बाय स्टेप गाइड दे रहे हैं। लगभग सभी कंपनियों में यह प्रक्रिया एक जैसी ही होती है, बस nameservers अलग-अलग होती हैं। फिर भी यदि आपको कोई प्रॉब्लम आये तो आप इस पोस्ट के नीचे कमेंट करके मुझसे पूछ सकते हैं या हमारे फोरम में सहायता ले सकते हैं।

#1: GoDaddy पर जाएँ और राइट हैंड साइड में “Sign In” बटन दबाकर अपने अकाउंट में sign in करें।

GoDaddy अकाउंट में sign in करें

#2: Sign in करने के बाद सबसे ऊपर आपके रजिस्टर किये हुए सभी डोमेन की लिस्ट खुल जाएगी। इनमें से अपने ब्लॉग के डोमेन के सामने वाली “Manage” बटन पर क्लिक करें।

अपने ब्लॉग के डोमेन के सामने वाली "Manage" बटन पर क्लिक करें

#3: अब आपके डोमेन की सेटिंग्स का पेज खुल जायेगा। इस पेज में सबसे नीचे “Manage DNS” पर क्लिक करें।

GoDaddy manage DNS

#4: अब आपके डोमेन का DNS Management पेज खुल जायेगा। इस पेज में Nameservers नाम का एक कॉलम होगा जिसमें आपकी वर्तमान nameservers होंगी। यहाँ पर “Change” बटन पर क्लिक करें।

GoDaddy DNS Management में "Change" बटन पर क्लिक करें

#5: अब आपको “Choose your new nameserver type” में “Custom” चुनना है। इसके बाद नीचे दो कॉलम खुल जायेंगे जिनमें आपको HostGator के nameservers डालकर “Save” बटन दबा देना है।

namservers change

HostGator आपके अकाउंट के nameservers की जानकारी, होस्टिंग अकाउंट लेने के बाद आपके ईमेल अकाउंट पर भेजता है। इसके अलावा, आप अपने CPanel अकाउंट में भी nameservers को देख सकते हैं।

hostgator nameservers

नोट: nameservers बदलने के बाद इसे पूरी तरह से अपडेट होने में 24 घंटे का समय लग सकता है।

अब आपका डोमेन नाम आपके होस्टिंग अकाउंट से कनेक्ट हो चुका है। अब आप आगे की प्रक्रिया कर सकते हैं।

अब आपको अपना ब्लॉग बनाने के लिए एक ब्लॉगिंग सॉफ्टवेयर की जरूरत है। इस गाइड में मैं आपको वर्डप्रेस (WordPress) ब्लॉगिंग सॉफ्टवेयर के जरिये ब्लॉग बनाने का तरीका बताऊँगा, क्योंकि यह सबसे पॉपुलर और उपयोग करने में काफी आसान है।

अपने होस्टिंग अकाउंट में वर्डप्रेस इंस्टॉल करने के सबसे आसान तरीकों में से एक है Mojo MarletPlace के QuickInstall का इस्तेमाल करना। यह इंस्टॉलेशन प्रक्रिया को काफी आसान बना देता है, और कुछ ही मिनटों के भीतर आपका वर्डप्रेस ब्लॉग ऑनलाइन हो जाता है। QuickInstall लगभग हर होस्टिंग कंपनी के cPanel में उपलब्ध होता है।

इसके अलावा वर्डप्रेस को मैन्युअली भी इंस्टॉल किया जा सकता है, जिसमें आपको wordpress.org से फ्री सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करना होता है और अपने cPanel में डोमेन की रूट डायरेक्टरी में अपलोड करना होता है। फिर cPanel में एक डेटाबेस और यूजर बनाना होता है और इस यूजर को डेटाबेस का उपयोग करने की फुल परमिशन देनी होती है। फिर आपको अपने domain.com पर जाकर डेटाबेस की जानकारी भरनी होता है और वर्डप्रेस इंस्टॉल करना होता है। QuickInstall में यह सब अपनेआप हो जाता है।

वर्डप्रेस को मैन्युअली इंस्टॉल करने की पूरी स्टेप बाय स्टेप जानकारी हम किसी और पोस्ट में देंगे।

इस गाइड में हम HostGator के cPanel में QuickInstall के जरिये वर्डप्रेस इंस्टॉल करने की स्टेप बाय स्टेप जानकारी देंगे।

नोट: जब आप HostGator पर होस्टिंग खरीदते हैं तो आपको इस होस्टिंग अकाउंट से जोड़ने के लिए एक डोमेन भी डालना होता है (जिसे primary domain कहा जाता है)। यदि आप इसी डोमेन पर वर्डप्रेस इंस्टॉल करने वाले हैं तो आगे की स्टेप्स को फॉलो करें। किसी अन्य डोमेन पर वर्डप्रेस इंस्टॉल करने से पहले आपको इसे HostGator के cPanel में add करना जरूरी है। इसकी पूरी जानकारी हमने इस पोस्ट में दी है – HostGator पर Addon Domain कैसे जोड़ें?

#1: अपने cPanel होमपेज पर जाएँ और QuickInstall बटन पर क्लिक करें।

Hostgator cPanel Quickinstall

#2: अब QuickInstall का मैन पेज खुल जायेगा। यहाँ पर “WordPress” को सेलेक्ट करें। 2019 में HostGator इस स्टेप के बाद कुछ सर्विस देने की पेशकश भी करता है (जैसे प्रीमियम थीम आदि), जिनको लने पर आपके एक्स्ट्रा पैसे देने होंगे। आप इन ऑप्शन्स को “skip” कर दें और इस गाइड की स्टेप्स को फॉलो करें।

HostGator पर WordPress का One Click Installation

#3: अगले पेज में drop down menu में से अपने डोमेन को सेलेक्ट करें, जिसपर आप वर्डप्रेस को इंस्टॉल करना चाहते हैं।

QuickInstall में डोमेन सेलेक्ट करें

यहाँ पर आपको यह तय करना होता है कि आप वर्डप्रेस को अपनी root directory (homepage) में इंस्टॉल करना चाहते हैं या sub directory में। जैसे:

  • Root directory: https://www.blogmanch.com
  • Sub directory: https://www.blogmanch.com/blog

अपना डोमेन सेलेक्ट करने के बाद “Next” बटन पर क्लिक करें।

#4: अब आपको अपने वर्डप्रेस ब्लॉग की पर्सनल जानकारी भरना है, जैसे username, Name, email आदि। ध्यान रखें, username में admin न भरें, क्योंकि यह ब्लॉग की सिक्योरिटी के लिए अच्छा नहीं होता।

“Install Now” बटन को क्लिक करने से पहले सभी जानकारी को ठीक से चेक कर लें कि कहीं कोई गलती तो नहीं हुई।

कुछ ही मिनट में आपका वर्डप्रेस इंस्टॉल हो जायेगा और आपको अपने dashboard link, username और password के साथ एक ईमेल प्राप्त होगा।

HostGator पर WordPress Install हो गया है

अब आपका वर्डप्रेस ब्लॉग इंस्टॉल हो गया है।

स्टेप 3: अपने ब्लॉग को कस्टमाइज़ करें

ब्लॉग में लॉगइन करें

आप Admin URL (domain.com/wp-admin) पर जाकर अपने वर्डप्रेस ब्लॉग में login कर सकते हैं। आपको जो username और password ईमेल में प्राप्त हुआ है उसको डालकर login करें।

WordPress login page

अपने ब्लॉग का डिज़ाइन बदलना

एक बार login हो जाने के बाद आप सीधे अपने वर्डप्रेस ब्लॉग के डैशबोर्ड में पहुँच जायेंगे। यहाँ पर आप अपने ब्लॉग में नई पोस्ट डाल सकते हैं, थीम एडिट कर सकते हैं, नए plugin जोड़ सकते हैं, कमेंट्स मॉडरेट कर सकते हैं, ब्लॉग का नाम आदि बदल सकते हैं इत्यादि।

हर ब्लॉगर का अपने ब्लॉग की डिज़ाइन के प्रति एक अलग नजरिया होता है। एक वर्डप्रेस ब्लॉग की सबसे अच्छी चीजों में से एक यह है कि आप इसके पूरे डिज़ाइन को अपनी इच्छानुसार बदल सकते हैं और वो भी सिर्फ कुछ क्लिक में।

वर्डप्रेस में ब्लॉग की डिज़ाइन को “Themes” कहा जाता है। तो एक theme क्या होती है? एक theme पहले से डिज़ाइन किये हुए वर्डप्रेस ब्लॉग का एक बंडल होता हैं जिसे आप अपने ब्लॉग में इंस्टॉल कर सकते हैं। वर्डप्रेस कम्युनिटी आपको लाखों themes फ्री में प्रदान करती है जिन्हे आप सीधे अपने ब्लॉग डैशबोर्ड से ही इंस्टॉल कर सकते हैं। जैसे हम इस ब्लॉग पर Hueman theme का इस्तेमाल करते हैं।

फ्री theme को इंस्टॉल करने के लिए डैशबोर्ड के लेफ्ट साइड में मौजूद मेनू में “Appearance” को सेलेक्ट करने और “Themes” पर क्लिक करें।

WordPress manage themes

आप देखेंगे कि आपके ब्लॉग पर पहले से ही कुछ थीम इंस्टॉल हैं, जैसे Twenty Nineteen, Twenty Seventeen आदि। यह वर्डप्रेस की official themes हैं, जिन्हें काफी अच्छे तरीके से डिज़ाइन किया गया है। यहाँ तक कि, कई टॉप ब्लॉगर्स अपने ब्लॉग में इन्ही का इस्तेमाल करते हैं।

एक नई theme जोड़ने के लिए “Add New” बटन पर क्लिक करें।

इसके बाद Add Themes का पेज खुलेगा जहाँ पर आप वर्डप्रेस की कोई भी फ्री थीम को search करके इंस्टॉल कर सकते हैं। या Featured, Popular, Latest या Favorites की लिस्ट में से सेलेक्ट कर सकते हैं।

WordPress add theme

अपनी पसंदीदा किसी भी theme को सेलेक्ट करके Install कर लें।

WordPress Install Theme

Theme इंस्टॉल होने के बाद उसपर Activate बटन दिखाई देने लगेगी। इस बटन को दबाकर थीम को एक्टिवेट कर लें।

WordPress Activate Theme

अब आपकी वर्डप्रेस थीम एक्टिवेट हो चुकी है। आप अपने domain.com पर जाकर इसे देख सकते हैं। अपनी theme को बदलना अपने ब्लॉग को कस्टमाइज करने का सबसे आसान तरीका होता है। अपने वर्डप्रेस ब्लॉग को कस्टमाइज करने की गहराई से स्टेप बाय स्टेप जानकारी पढ़ने के लिए मेरी यह पोस्ट पढ़ें।

स्टेप 4: अपनी पहली पोस्ट लिखें और पब्लिश करें

चूँकि अब आपका ब्लॉग बनकर ऑनलाइन हो चुका है। तो अब समय है कुछ ब्लॉगिंग करने का।

अपने ब्लॉग के लेफ्ट मेनू में “Posts” पर क्लिक करें।

WordPress में नई पोस्ट जोड़ें

अब आपकी पोस्ट्स का मैन पेज खुल जायेगा। आप देखेंगे कि यहाँ पर पहले से ही “Hello World” नाम की एक पोस्ट मौजूद है। यह हर नए वर्डप्रेस ब्लॉग पर डिफॉल्ट पोस्ट होती है जिसकी हमें कोई जरूरत नहीं होती। इसे डिलीट करने के लिए इसके नीचे की “Trash” बटन पर क्लिक कर दें।

वर्डप्रेस डिफॉल्ट पोस्ट को डिलीट कर दें

नई ब्लॉग पोस्ट लिखने के लिए “Add New” बटन पर क्लिक करें।

नई ब्लॉग पोस्ट लिखने के लिए "Add New" बटन पर क्लिक करें

अब आप पोस्ट एडिटर स्क्रीन पर हैं। टॉप बॉक्स में अपनी पोस्ट का टाइटल डालें और नीचे के बॉक्स में अपनी पोस्ट लिखना शुरू करें।

यदि आप पोस्ट में इमेज जोड़ना चाहते हैं तो “Add Image” आइकॉन पर क्लिक करें और “Upload” पर क्लिक करके अपने कंप्यूटर से इमेज को अपलोड करें। अगली स्क्रीन में आप इमेज की साइज को एडजस्ट कर सकते हैं। जब आपकी इमेज तैयार हो जाए तो “Insert into post” पर क्लिक कर दें।

पोस्ट में इमेज जोड़ें

जब आपकी पोस्ट पूरी हो जाये तो राइट साइड में सबसे ऊपर मौजूद “Publish” बटन पर क्लिक कर दें। अब आपके ब्लॉग की सबसे पहली पोस्ट पब्लिश हो चुकी है।

स्टेप 5: अपने ब्लॉग का प्रचार करें

एक अच्छी तरह से डिज़ाइन किया गया ब्लॉग बनाना और बढ़िया पोस्ट लिखना तो सिर्फ शुरू की चीजें हैं। अपने ब्लॉग पर पाठकों को बढ़ाने के लिए आपको कुछ समय इसके प्रचार में भी देना होगा, खासतौर से तब जब आप ब्लॉगिंग में काफी नए हैं।

पाठकों को मेरे ब्लॉग पर लाने का मेरा सबसे पसंदीदा तरीका है – फेसबुक और ट्विटर जैसे मेरे सोशल मीडिया अकाउंट पर ब्लॉग की लिंक पोस्ट करना। यह बहुत अच्छा तरीका है, क्योंकि इसके जरिये न सिर्फ आपके फ्रेंड्स इस पोस्ट को देखते हैं, बल्कि यदि आपके फ्रेंड्स अपने फ्रैंड्स के साथ इस लिंक को शेयर करते हैं तो स्वचालित रूप से आपके पाठक कई गुना बढ़ जाते हैं। यदि आपने अपने ब्लॉग पर हाई-क्वालिटी पोस्ट डाली हैं, तो सोशल मीडिया आपके ब्लॉग को वायरल करने का एक शानदार तरीका है।

अपने ब्लॉग पर नए पाठक लाने के अलावा, आपको यह भी सुनिश्चित करना चाहिए कि आपके ब्लॉग के पहले से मौजूद पाठक दोबारा आपके ब्लॉग पर आ रहे हैं या नहीं। इसमें ईमेल मार्केटिंग एक बड़ी भूमिका निभाती है। अपने पाठकों का ईमेल एड्रेस एकत्रित करके (उनकी अनुमति के साथ), बाद में आप उनको नई पोस्ट के ईमेल नोटिफिकेशन भेज सकते हैं। ऐसा करने से न सिर्फ आपके पाठक ब्लॉग पर आते रहते हैं, बल्कि उनका आपके ब्लॉग के साथ एक गहरा संबंध बनाने में भी मदद मिलती है।

ईमेल मार्केटिंग एक बहुत बड़ा टॉपिक है, जिसे मैं इस पोस्ट में अच्छी तरह से कवर नहीं कर सकता। इसलिए मैंने एक अलग ईमेल मार्केटिंग गाइड तैयार की है।

अपने ब्लॉग का प्रचार करने की और अधिक टिप्स के लिए मेरी ब्लॉग प्रचार की फुल गाइड पढ़ें।

स्टेप 6: ब्लॉगिंग के जरिये पैसे कमाएँ

एक बार जब आप अपने ब्लॉग में हाई क्वालिटी पोस्ट डाल देते हैं और इसका अच्छे से प्रचार करके पाठकों की संख्या बढ़ा देते हैं, तो अपने इस ब्लॉग से पैसे कमाना काफी आसान हो जाता है।

ऐसे कई तरीके हैं जिनके जरिये आप अपने ब्लॉग से पैसे कमा सकते हैं, जैसे ब्लॉग की कुछ जगहों पर ad banner डालना, ब्लॉग पर कोई प्रोडक्ट बेचना या affiliate marketing करना आदि। लेकिन इनमें से सबसे सरल और कारगर तरीका होता है अपने ब्लॉग पर ad banner डालना।

जब आपका ब्लॉग काफी लोकप्रिय हो जाता है, तो advertisers खुद व खुद आपके पास advertising के लिए आने लगते हैं। इसके अलावा आप अपने ब्लॉग पर Google Adsense (Google Ads) का उपयोग भी कर सकते हैं। Google Adsense पर advertisers की भरमार होती है और यह आपके ब्लॉग पर सिर्फ relevant ads ही दिखाता है जिससे आपके ब्लॉग की CTR और कमाई बढ़ती है।

सबसे पहले Google Adsense पर जाकर अपना अकाउंट बनायें और अपने ब्लॉग को जोड़ें। Google का स्टाफ आपके ब्लॉग को चेक करने के बाद approve करेगा। एक बार ब्लॉग approve हो जाने के बाद आप Google Adsense का ad code अपने ब्लॉग में डाल सकते हैं। अब आपके ब्लॉग पर Google Ads चलने लगेंगे और आपकी कमाई होने लगेगी।

Google Adsense सेट करने की फुल जानकारी मैंने इस पोस्ट में दी है।

ब्लॉग से पैसे कमाने की फुल गाइड के लिए मेरी यह पोस्ट पढ़ें।

क्या आपको और मदद चाहिये?

मुझे उम्मीद है कि इस पोस्ट के जरिये आपको ब्लॉग बनाने की पूरी जानकारी मिल गई होगी। लेकिन यदि फिर भी आप किसी स्टेप पर अटक रहे हैं तो मैंने इन हर स्टेप्स की फुल गाइड्स भी बनाई हैं, जिनकी लिस्ट मैं जल्दी ही दूँगा।

इसके अलावा आप नीचे कमेंट करके ब्लॉग बनाने से सम्बंधित मुझसे कोई भी प्रश्न पूछ सकते हैं, मैं कोशिश करूँगा कि आपके हर प्रश्न का समाधान कर सकूँ। मेरे लिए ब्लॉगिंग एक passion है और मुझे आपकी हर समस्या का समाधान करने में काफी ख़ुशी होगी।

विकास दाँगी

हेलो दोस्तों, मेरा नाम विकास दाँगी है और मैं पिछले 10 सालों से ऑनलाइन मार्केटिंग और ब्लॉगिंग के क्षेत्र में सक्रिय रहा हूँ। इस दौरान मैंने कई गलतियाँ की और अनुभव प्राप्त किये। मैं इस ब्लॉग के जरिये अपने इन अनुभवों को आपके साथ शेयर करना चाहता हूँ और आपको एक सफल ब्लॉगर बनने में मदद करना चाहता हूँ।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

%d bloggers like this: